Pages

Monday, June 10, 2013

श्वेताम्बर- दिगंबर संतों का एक साथ चातुर्मास जयपुर में


श्वेताम्बर- दिगंबर जैन संतों का एक साथ चातुर्मास जयपुर में कराने का प्रवल प्रयास चल रहा है. इस वर्ष दोनों ही समुदाय के प्रभावशाली मुनियो का चातुर्मास जयपुर में होने जा रहा है . श्री जैन श्वेताम्बर खरतर गच्छ संघ, जयपुर के तत्वावधान में दो प्रभाव्शाली  वक्ता मुनि महोपाध्याय ललितप्रभ सागर जी महाराज एवं चन्द्रप्रभ सागर जी महाराज का चातुर्मास विचक्षण भवन, जोहरी बाज़ार में होने जा रहा है. इसी प्रकार दिगंबर मुनि तरुणसागर जी महाराज का चातुर्मास भट्टारक जी की नसियां में  होगा। श्री जैन श्वेताम्बर खरतर गच्छ संघ, जयपुर  के संघमंत्री ज्योति कोठारी एवं तरुणसागर चातुर्मास समिति के संयोजक मानक काला दोनों ही एकता की दिशा में विशेष प्रयास कर रहे है।

दोनों ही समुदाय के मुनिगण प्रखर वक्त हैं एवं जैन-जैनेतर समाज के लोग हजारों की संख्या में इनके व्याख्यान में उपस्थित होते है। कल सम्पूर्ण जैन समाज की एक सभा हुई जिसमे दोनों के संयुक्त चातुर्मास की रूपरेखा पर विस्तृत विचार विमर्श हुआ. इस सभा में श्वेताम्बर- दिगंबर दोनों ही समुदाय के पदाधिकारी गण एवं गणमान्य व्यक्ति उपस्थित हुए. सभा में निर्णय हुआ की दोनों ही समुदाय के मुख्य मुख्य व्यक्ति अजमेर में विराजित दिगंबर मुनि तरुणसागर जी एवं जोधपुर में विराजित  महोपाध्याय ललितप्रभ सागर जी एवं चन्द्रप्रभ सागर जी से जाकर मुलाकात करें एवं एक ही दिन एक साथ सभी मुनियो का प्रवेश हो। सभा के निर्णयानुसार १२ जून को सर्व श्री नवरतनमल कोठारी, एन के सेठी, मानक काला, विवेक कला, महेंद्र सुराना एवं ज्योति कोठारी आदि का प्रतिनिधि मंडल इस कार्य के लिए अजमेर एवं जोधपुर जयेगा।

श्वेताम्बर- दिगंबर संतों का एक साथ प्रवेश ,साथ प्रवचन एवं अठारह दिवसीय पर्युषण- दस लक्षण पर्व का आयोजन हो सकेगा। इस प्रकार जयपुर में श्वेताम्बर- दिगंबर एकता की एक मिशाल कायम होगी। सम्पूर्ण श्रावक मंडल की यही भावना है एवं मुनि समुदाय भी इस पक्ष में है। सम्पूर्ण जैन समाज के एकीकरण में यह कार्यक्रम महत्वपूर्ण भूमिका अदा करेगा।




Vardhaman Infotech
A leading IT company in Jaipur
Rajasthan, India
E-mail: info@vardhamaninfotech.com 
allvoices

No comments:

Post a Comment